The Story of My Life Ch 10 Summary in Hindi Class 10th

The Story of My Life Ch 10 Summary in Hindi Class 10th- पाठ 10 का सार और शब्दार्थ

सार

पर्किन्स इंस्टीट्यूट में ग्रीष्म ऋतू का अवकाश होने से पहले हेलेन और उसकी शिक्षिका ब्रूस्टर में केप कॉड पर अपनी मित्र मिसेज मॉपकिंस के साथ छुट्टियाँ बिताने का निर्णय लिया। हेलेन इस बात से खुश थी क्योंकि उसने समुद्र के बारे में अद्भुत कहानियाँ सुनी थीं। वह समुद्र से दूर इलाके में रहती थी। उसने एक बड़े किताब 'आवर वर्ल्ड' में समुद्र का विवरण पढ़ा था और उसे छूने और उसकी दहाड़ सुनने को उत्सुक थी।

समुद्र तहत पर जाते ही हेलेन बिना किसी डर के पानी में कूद पड़ी। वह आनंद लेने लगी तभी उसका पाँव चट्टान में टकराया और पानी उसके सिर के ऊपर से गुजरने लगी। उसने पकड़ने के लिए कोई भी चीज़ को उचित नहीं पाया क्योंकि समुद्र में पानी और समुद्री शैवाल के सिवा कुछ नहीं था। वह भाग्यशाली थी कि समुद्र की लहरों ने उसे वापस किनारे पर लाकर फेंक दिया जहाँ से उसे उसकी शिक्षिका ने अपनी बाँहों में उठा लिया।

इस घटना के सदमे से बाहर आने के बाद हेलेन समुद्री लहरों का आनंद ले रही थी। मिस सलीवन ने हेलेन का ध्यान एक बड़े घोड़े की नाल वाले केकड़े की तरफ आकर्षित किया। हेलेन को लगा की वह एक अच्छा पालतू जानवर बन सकता है इसलिए वह उसे अपने घर ले आई और उसे खुले बक्से में रखा दिया। लेकिन जब अगली सुबह वह केकड़े को देखने गई तो वह वहाँ नहीं था। हेलेन को केकड़े को उसके निवास स्थान से दूर करने का दुःख हुआ परन्तु वह यह सोचकर खुश थी की वह वापस समुद्र में चला गया होगा।

शब्दार्थ

• prospective - प्रत्याशित
• whiff - हल्का गंध
• intense - गहरा
• longing - लालसा
• mighty - ताकतवर
• billows - बड़ी लहर
• buoyant - प्रसन्नचित
• exquisite - बहुत
• frantic - उत्तेजित
• rattling - तेजस्वी
• ponderous - नादकार
• tang - वज़नदार
• untainted - बेदाग
• feat - करतब
• trough - नाँद
• element - मूल तत्व

Go To Chapters

Facebook Comments
0 Comments
© 2017 Study Rankers is a registered trademark.