>

Objective Questions for Class 10 Sparsh Chapter 10 बड़े भाई साहब Hindi

You will find Objective Questions for Class 10 Sparsh Chapter 10 बड़े भाई साहब Hindi with answers will make the entire journey of study exciting and help in obtaining more marks in the exams. If you want to revise the chapters in less time then this is the best way to keep track of every record. These Objective Questions for Class 10 Sparsh will be helpful in practising more concepts and start your study in efficient manner.

Chapter 10 बड़े भाई साहब Class 10 Sparsh Hindi Objective Questions Free PDF Download will be going to reduce the burden of the students in learning the indepth of concepts. Students can make great strides if they follow a study schedule. Also, you can view all the objective questions by downloading Studyrankers App from Playstore.

Objective Questions for Class 10 Sparsh Chapter 1 बड़े भाई साहब Hindi

Objective Questions for Class 10 Sparsh Chapter 10 बड़े भाई साहब Hindi


मेरा जी पढ़ने में बिलकुल न लगता था। एक घंटा भी किताब लेकर बैठना पहाड़ जैसा था। मौका पाते ही होस्टल से निकलकर मैदान में आ जाता और कभी कंकरियाँ उछालता, कभी कागज़ की तितलियाँ उड़ाता और कहीं कोई साथी मिल गया, तो पूछना ही क्या। कभी चारदीवारी पर चढ़कर नीचे कूद रहे हैं। कभी फाटक पर सवार, उसे आगे-पीछे चलाते हुए मोटरकार का आनंद उठा रहे हैं, लेकिन कमरे में आते ही भाई साहब का वह रुद्र-रूप देखकर प्राण सूख जाते। उनका पहला सवाल यह होता - ‘कहाँ थे'? हमेशा यही सवाल, इसी ध्वनि में हमेशा पूछा जाता था और इसका जवाब मेरे पास केवल मौन था। न जाने मेरे मुँह से यह बात क्यों न निकलती कि ज़रा बाहर खेल रहा था। मेरा मौन कह देता था कि मुझे अपना अपराध स्वीकार है और भाई-साहब के लिए उसके सिवा और कोई इलाज न था कि स्नेह और रोष से मिले हुए शब्दों में मेरा सत्कार करें।

1. लेखक और उसके बड़े भाई कहाँ रहते थे?
(a) होटल में
(b) गाँव में
(c) छात्रावास में
(d) शहर में
► (c) छात्रावास में

2. लेखक का मन पढ़ाई में क्यों नहीं लगता था क्योंकि
(a) उनकी रुचि खेलकूद में थी
(b) उनकी रुचि मौज-मस्ती में थी
(c) उपरोक्त दोनों
(d) पढ़ने में उनका मन नहीं लगता था।
► (c) उपरोक्त दोनों

3. लेखक अपने बड़े भाई साहब से डरता था, क्योंकि
(a) सवाल-जवाब करेंगें
(b) एक-एक मिनट का हिसाब माँगेंगे
(c) आवारागर्दी के लिए डाँटेंगे
(d) उपरोक्त सभी
► (d) उपरोक्त सभी

4. लेखक को क्या करने में आनंद आता था?
(a) खेलने में
(b) सोने में
(c) पढ़ने में
(d) उपरोक्त सभी
► (a) खेलने में

“इस तरह अंग्रेज़ी पढ़ोगे, तो जिंदगी-भर पढ़ते रहोगे और एक हर्फ़ न आएगा। अंग्रेज़ी पढ़ना कोई हँसी-खेल नहीं हैं कि जो चाहे, पढ़ लें, नहीं ऐरा-गैरा नत्थू-खैरा सभी अंग्रेज़ी के विद्वान हो जाते। यहाँ रात-दिन आँखें फोड़नी पड़ती हैं और खून जलाना पड़ता है, तब कहीं यह विद्या आती है। और आती क्या है, हाँ कहने को आ जाती है। बड़े-बड़े विद्वान भी शुद्ध अंग्रेज़ी नहीं लिख सकते, बोलना तो दर रहा। और मैं कहता हूँ, तुम कितने घोंघा हो कि मुझे देखकर भी सबक नहीं लेते। मैं कितनी मेहनत करता हूँ, यह तुम अपनी आँखों से देखते हो, अगर नहीं देखते, तो यह तुम्हारी आँखों का कसूर है, तुम्हारी बुद्धि का कसूर है। इतने मेले-तमाशे होते हैं, मुझे तुमने कभी देखने जाते देखा है? रोज़ ही क्रिकेट और हॉकी मैच होते हैं। मैं पास नहीं फटकता। हमेशा पढ़ता रहता हूँ। उस पर भी एक-एक दरजे में दो-दो, तीन-तीन साल पड़ा रहता हूँ, फिर भी तुम कैसे आशा करते हो कि तुम यों खेल-कूद में वक्त गँवाकर पास हो जाओगे? मुझे तो दो ही तीन साल लगते हैं, तुम उम्र-भर इसी दरजे में पड़े सड़ते रहोगे? अगर तुम्हें इस तरह उम्र गँवानी है, तो बेहतर है, घर चले जाओ और मज़े से गुल्ली-डंडा खेलो। दादा की गाढ़ी कमाई के रुपये क्यों बरबाद करते हो?"

1. बड़े भाई ने लेखक को किसका डर दिखाया?
(a) मार का
(b) अंग्रेजी भाषा के कठिन होने का
(c) दादा से शिकायत का
(d) उपरोक्त सभी
► (b) अंग्रेजी भाषा के कठिन होने का

2. बड़े भाई साहब ने लेखक को क्यों डाँटा?
(a) शिक्षा के प्रति गंभीर नहीं होने पर
(b) अंग्रेजी भाषा के कठिन होने पर
(c) मार खाने से बचने के लिए बहाना बनाने पर
(d) बड़े होने का अहसास दिलाने के लिए
► (a) शिक्षा के प्रति गंभीर नहीं होने पर

3. बड़े भाई साहब के अनुसार अंग्रेजी कैसी भाषा है?
(a) कठिन
(b) आसान
(c) गंभीर
(d) औसत दर्जे का
► (a) कठिन

4. बड़े भाई ने लेखक को किस चीज़ का वास्ता देकर पढ़ने को कहा?
(a) दादा की गाढ़ी कमाई का
(b) दादी की बिमारी का
(c) मार का
(d) अंग्रेजी का
► (a) दादा की गाढ़ी कमाई का

शैतान का हाल भी पढ़ा ही होगा। उसे यह अभिमान हुआ था कि ईश्वर का उससे बढ़कर सच्चा भक्त कोई है ही नहीं। अंत में यह हुआ कि स्वर्ग से नरक में ढकेल दिया गया। शाहेरूम ने भी एक बार अहंकार किया था। भीख माँग-माँगकर मर गया। तुमने तो अभी केवल एक दरजा पास किया है और अभी से तुम्हारा सिर फिर गया, तब तो तुम आगे पढ़ चुके। यह समझ लो कि तुम अपनी मेहनत से नहीं पास हुए, अंधे के हाथ बटेर लग गई। मगर बटेर केवल एक बार हाथ लग सकती है, बार-बार नहीं लग सकती। कभी-कभी गल्ली-डंडे में भी अंधा-चोट निशाना पड़ जाता है। इससे कोई सफल खिलाड़ी नहीं हो जाता। सफल खिलाडी वह है, जिसका कोई निशाना खाली न जाए।

1. शाहेरूम भीख माँग-माँगकर क्यों मर गया?
(a) वह गरीब था
(b) उसे भयंकर रोग था|
(c) उसने अंहकार किया था
(d) उसने भगवान की अवहेलना की थी
► (c) उसने अंहकार किया था

2. लेखक को समझाने के लिए बड़े भाई साहब ने किसका उदाहरण दिया?
(a) शाहेरूम का
(b) शैतान का
(c) नरक का
(d) (a) और (b) दोनों
► (d) (a) और (b) दोनों

3. शैतान का क्या हाल हुआ था?
(a) स्वर्ग से नरक में ढकेल दिया गया|
(b) उसे धरती से भगा दिया गया था|
(c) उसे खाना खाने किसी ने नहीं दिया|
(d) उपरोक्त सभी
► (a) स्वर्ग से नरक में ढकेल दिया गया|

4. सफल खिलाड़ी किसे कहा जाता है?
(a) जिसका कोई निशाना खाली न जाए
(b) जो सबका दिल जीते
(c) जो दिन-रात खेले
(d) उपरोक्त सभी
► (a) जिसका कोई निशाना खाली न जाए

सही/गलत करें-

1. बड़े भाई साहब का जी पढ़ने में बिल्कुल भी नहीं लगता था|

2. लेखक स्वभाव से बहुत अध्ययनशील थे|

3. लेखक को एक घंटा भी किताब लेकर बैठना पहाड़ लगता था|

4. बड़े भाई साहब ने हिंदी को हँसी-खेल के विषय की तरह ना लेने कहा|

5. लेखक बड़े भाई की डाँट सुनकर टाइम-टेबिल बना लेता और पहले दिन से ही उसका अनुपालन करना शुरू कर देता था|

उत्तर

1. गलत, लेखक का जी पढ़ने में बिल्कुल भी नहीं लगता था|

2. गलत, बड़े भाई साहब स्वभाव से बहुत अध्ययनशील थे|

3. सही

4. गलत, बड़े भाई साहब ने अंग्रेज़ी को हँसी-खेल के विषय की तरह ना लेने कहा|

5. गलत, लेखक बड़े भाई की डाँट सुनकर टाइम-टेबिल बना लेता और पहले दिन से ही उसकी अवहेलना करना शुरू कर देता था|
Previous Post Next Post
X
Free Study Rankers App Download Now