NCERT Solutions for Class 10th: पाठ 4 - लिंग, धर्म और जाति (Ling, Dharm aur Jati) Loktantrik Rajniti

पृष्ठ संख्या: 55

अभ्यास

1. जीवन के उन विभिन्न पहलुओं का जिक्र करें जिनमें भारत में महिलाओं के साथ भेदभाव होता है या वो कमजोर स्थिति में होती है?

उत्तर

भारत में महिलाओं को निम्न तरीकों से भेदभाव किया जाता है:
• उन्हें पर्याप्त शिक्षा नहीं दी जाती है। जिस कारण महिलाओं में साक्षरता केवल 54% है।
• उनके द्वारा किया गया अधिकांश श्रम अवैतनिक है। जहां वे काम करती है उन्हें पुरुषों की तुलना में कम वेतन मिलता है।
• सिर्फ लड़के की चाह के कारण देश के कई हिस्सों में कन्या भ्रूण हत्या का प्रचलन है।

2. विभिन्न तरह की सांप्रदायिक राजनीति का ब्यौरा दे और सब के साथ एक-एक उदारहण भी दें?

उत्तर

सांप्रदायिक राजनीति के विभिन्न रूप:
• दैनिक जीवन की मान्यताओं में सांप्रदायिक श्रेष्ठता की अभिव्यक्ति धार्मिक सांप्रदायिक इसका एक अच्छा उदाहरण हैं।
• एक प्रमुख प्रभुत्व या एक अलग राज्य बनाने की इच्छा, जम्मू-कश्मीर और मध्य भारत में अलगाववादी नेता और राजनीतिक दल इसका एक उदाहरण हैं।
• मतदाताओं से अपील करने के लिए राजनीति में धार्मिक प्रतीकों और धार्मिक नेताओं का उपयोग करने के तरीके कई राजनेताओं द्वारा देश के दो सबसे बड़े धार्मिक समुदायों के मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए लागू की जाती है।
• इस तरह सांप्रदायिक राजनीति, 2002 में गुजरात में हुए दंगों की तरह सांप्रदायिक हिंसा और दंगों का रूप ले सकती है।

3. बताइए की भारत में किस तरह अभी भी जातिगत असमानताएँ जारी हैं।

उत्तर

समकालीन भारत से जाति व्यवस्था खत्म नहीं हुई है।
• अब भी ज्यादातर लोग अपनी जाति या कबीले के अंदर ही शादी करते हैं।
• छुआछूत को संवैधानिक किये जाने के बावजूद भी यह पूरी तरह से समाप्त नहीं हुई है।
• सदियों पुराने चलन के प्रभावों को आज भी महसूस किया जाता है, जैसे कि जाति को आर्थिक स्थिति का पैमाना माना जाता है।

4. दो कारण बताए कि क्यों सिर्फ जाति के आधार पर भारत में चुनाव के परिणाम तय नहीं हो सकते?

उत्तर

अकेले जाति भारत में चुनाव परिणाम निर्धारित नहीं कर सकता क्योंकि:
• कोई भी संसदीय क्षेत्र ऐसा नहीं है जहाँ एक ही जाति का स्पष्ट बहुमत हो।
• कोई भी पार्टी किसी विशेष जाति के सभी वोट हासिल नहीं करती है।

5. भारत विधायिकाओं में महिलाओं के प्रतिनिधित्व की स्थिति क्या है?

उत्तर

जब विधायिकाओं में महिलाओं के प्रतिनिधित्व की बात आती है, तो भारत का स्थान दुनिया के देशों में सबसे नीचे है। महिलाओं का प्रतिनिधित्व हमेशा लोकसभा में 10% से कम और राज्य विधानसभाओं में 5% रहा है। दूसरी तरफ स्थानीय सरकारी निकायों के मामले में स्थिति अलग है। चूंकि स्थानीय सरकारी निकायों (पंचायतों और नगर पालिकाओं) में महिलाओं के लिए एक तिहाई सीटें आरक्षित हैं, ग्रामीण और शहरी स्थानीय निकायों में 10 लाख से अधिक निर्वाचित प्रतिनिधि महिलाऐं हैं।

6. किन्हीं दो प्रावधानों का जिक्र करें जो भारत को एक धर्मनिरपेक्ष देश बनाते हैं?

उत्तर

भारत को धर्मनिरपेक्ष देश बनाने वाले दो संवैधानिक प्रावधान निम्न हैं:
• किसी भी धर्म का प्रचार करने, अभ्यास करने और अपनाने की स्वतंत्रता है।
• संविधान धर्म के आधार पर भेदभाव पर रोक लगाता है।

7. जब हम लिंग विभाजन की बात करते हैं तो हमारा अभिप्राय होता है:
(क) पुरुषों और महिलाओं के बीच जैविक अंतर
(ख) समाज द्वारा स्त्री और पुरुष को दी गई असमान भूमिकाएँ
(ग) बालक और बालिकाओं की संख्या का अनुपात
(घ) लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं में महिलाओं को मतदान का अधिकार न मिलना

उत्तर

(ख) समाज द्वारा स्त्री और पुरुष को दी गई असमान भूमिकाएँ

8. भारत में महिलाओं के लिए आरक्षण की व्यवस्था है:
(क) लोकसभा
(ख) विधानसभा
(ग) मंत्रिमंडल
(घ) पंचायतीराज संस्थाएँ

उत्तर

(घ) पंचायतीराज संस्थाएँ

9. सांप्रदायिक राजनीति के अर्थ संबंधी निम्नलिखित कथनों पर विचार करें। सांप्रदायिक राजनीति इस धारणा पर आधारित है कि:
(क) एक धर्म दूसरों से बेहतर है
(ख) विभिन्न धर्मों के लोग समान नागरिक के रूप में खुशी खुशी साथ रह सकते हैं
(ग) एक धर्म के अनुयायी एक समुदाय बनाते हैं
(घ) एक धार्मिक समूह का प्रभुत्व बाकी सभी धर्मों पर कायम करने में शासन की शक्ति का उपयोग नहीं किया जा सकता है
कौन सा कथन सही है / हैं?
(क) क, ख, ग और घ
(ख) क, ख और घ
(ग) क और ग
(घ) ख और घ

उत्तर

(ग) क और ग

10. भारत के संविधान के बारे में निम्नलिखित में से कौन सा कथन गलत है?
(क) धर्म के आधार पर भेदभाव की मनाही करता है।
(ख) यह एक धर्म को राजकीय धर्म बताता है।
(ग) सभी व्यक्तियों को कोई भी धर्म को स्वीकार करने की आजादी देता है।
(घ) किसी धार्मिक समुदाय में सभी नागरिकों को बराबरी का अधिकार देता है।

उत्तर

(ख) यह एक धर्म को राजकीय धर्म बताता है।

11. ___________ पर आधारित सामाजिक विभाजन सिर्फ भारत में ही है।

उत्तर

जाति

पृष्ठ संख्या: 56

12. सूची I और सूची II का मिलान करें और नीचे दिए गए कोड के आधार पर सही उत्तर चुनें:

सूची  सूची 
1. समान अधिकारों और अवसरों के मामले में महिला और पुरुष की बराबरी मानने वाला व्यक्ति क. साम्प्रदायिक
2. धर्म को समुदाय का प्रमुख आधार मानने वाला व्यक्ति ख. नारीवादी
3. जाति को समुदाय का प्रमुख आधार मानने वाला व्यक्ति ग. धर्मंनिरपेक्ष
4. व्यक्तियो के बीच धार्मिक मान्यताओं के आधार पर दूसरों के साथ भेदभाव नहीं करने वाला व्यक्ति घ. जातिवादी


1 2 3 4
g

उत्तर


1 2 3 4

Notes of पाठ 4 - लिंग, धर्म और जाति

Previous Post Next Post
X
Free Study Rankers App Download Now