CBSE Syllabus for Class 10 Hindi Course A 2018-19

Latest CBSE Class 10th Syllabus of Hindi Course A 2018-19

CBSE has released the Class 10th syllabus of Hindi Course A. There is no major change has been made in the syllabus and the pattern and it is same as the previous year. In Board examination, the entire syllabus will come. The Board examination will be of 80 marks, with a duration of three hours.

प्रश्न पत्र को चार खंडों में बाँटा गया है
(क) खंड 'क' - पठन कौशल - 15 अंक
(ख) खंड 'ख' - व्याकरण - 15 अंक
(ग) खंड 'ग' - पाठ्यपुस्तक से प्रश्न - 30 अंक
(घ) खंड 'घ' - लेखन - 20 अंक

खंड 'क' - पठन कौशल - 15 अंक

1. एक अपठित गद्यांश - (100 से 150 शब्दों के) (1×2=2) (2×3=6) - 8 अंक
2. अपठित काव्यांश - (100 से 150 शब्दों के) (1×3=3) (2×2=4) - 7 अंक

खंड 'ख' - व्याकरण - 15 अंक

1. रचना के आधार पर वाक्य भेद - 3 अंक
2. वाच्य - 4 अंक
3. पद-परिचय - 4 अंक
4. रस - 4 अंक

खंड 'ग' - पाठ्यपुस्तक से प्रश्न - 25 अंक

(अ) गद्य खंड
1. पाठ्यपुस्तक क्षितिज के गद्य पाठों के आधार पर बोध प्रश्न - 5 अंक (2+2+1)
2. पाठ्यपुस्तक क्षितिज के गद्य पाठों के आधार पर उच्च चिंतन व मनन क्षमताओं करने हेतु प्रश्न - 8 अंक (2✖4)

(ब) काव्य खंड
1. पाठ्यपुस्तक क्षितिज के काव्य पाठों की सोच को परख करने के लिए काव्यांश के आधार पर प्रश्न - 5 अंक (2+2+1)
2.पाठ्यपुस्तक क्षितिज के कविताओं के आधार पर बोध प्रश्न - 8 अंक (2✖4)

(स) पूरक पाठ्यपुस्तक कृतिका भाग - 2
1. कृतिका पाठों से एक मूल्यपरक प्रश्न (विकल्प सहित)- 4 अंक

खंड 'घ' - लेखन - 25 अंक

1. संकेत बिंदुओं पर आधारित विषयों पर 200 से 250 शब्दों में निबंध - 10 अंक
2. औपचारिक तथा अनौपचारिक विषय पर पत्र - 5 अंक
3. 25-50 शब्दों में विज्ञापन लेखन - 5 अंक

निर्धारित पुस्तकें:

• क्षितिज भाग - 2
• कृतिका भाग - 2

निम्नलिखित पाठों से प्रश्न नहीं पूछें जाएंगे-

क्षितिज भाग - 2
• देव
• जयशंकर प्रसाद - आत्मकथ्य
• स्त्री शिक्षा के विरोधी कुतर्कों का खंडन
• संस्कृति

कृतिका भाग - 2
• एही ठैयाँ झुलनी हेरानी हो रामा!
• मैं क्यों लिखता हूँ?

Syllabus of for Class 10 Hindi Course A 2018-19




Liked NCERT Solutions and Notes, Share this with your friends::
Facebook Comments
0 Comments
© 2017 Study Rankers is a registered trademark.