NCERT Solutions for Class 7th: पाठ - 6 गारो (लोककथा) हिंदी दूर्वा भाग - II

अभ्यास

पृष्ठ संख्या: 32

2. कविता संबंधी प्रश्न

क. पाठ के आधार पर गारो जनजाति के बारे में कुछ पंक्तियाँ लिखो।

उत्तर

गारो जनजाति मेघालय की एक प्रमुख जनजाति है। प्राचीन समय में यह जाति खानाबदोश जीवन व्यतीत करती थी। यह जाति हजारों साल पहले चीन और तिब्ब्त की ओर सुदूर घाटियों से भटकते हुए मेघालय में आ बसी। इसके लोग स्वभाव से शांतिप्रिय, परिश्रमी और प्रकृति प्रेमी होते हैं।इस समाज के जा पा जलिन पा और सुक पा बुंगि पा नामक दो महापुरुष हैं, जिन्हें आज भी ये लोग श्रद्धा से याद करते हैं।

ख. गारो लोग एक स्थान पर क्यों बस जाना चाहते थे?

उत्तर

गारो लोगों को भोजन की तलाश में भटकना पड़ता था। उन्हें विषम मौसम और जंगली जानवरों का भी सामना करना पड़ता था। वे लोग खानाबदोश जीवन से परेशान हो चुके थे इसलिए एक स्थान पर बस जाना चाहते थे।

ग. जा पा जलिन पा और सुक पा बुंगि पा का नाम आदर से क्यों लिया जाता है?

उत्तर

जा पा जलिन पा और सुक पा बुंगि पा ने गारो लोगों को एकत्रित किया। उन्होंने इस जाति को मेघालय जैसे सुंदर प्रदेश दिखाया जिससे इनलोगों के घुमंतू जीवन का अंत हुआ। इसलिए इनका नाम आदर से लिया जाता है।

3. सोचो और जवाब दो

क. जंगलों से हमें कौन-कौन सी चीज़ें प्राप्त होती हैं?

उत्तर

जंगलों से हमें निम्नलिखित चीज़ें प्राप्त होतीं हैं-
• लकड़ी
• कागज़
• फल-फूल
• औषधि

ख. गारो पहाड़ किस प्रदेश में हैं? मानचित्र पर उस प्रदेश का नाम लिखो।

उत्तर

गारो पहाड़ मेघालय में स्थित है।

4. कुछ यह भी करो

क. अपने प्रदेश या किसी अन्य राज्य की किसी जनजाति के बारे में पता करो। उसके बारे में अपनी कक्षा में बताओ।

उत्तर

संथाल भारत की प्रमुख जनजाति है। इस जाति के लोग परिश्रमी, उदार विचारों वाले, कुशल कृषक होते हैं। यह जाति मुख्यतः झारखंड प्रदेश में निवास करती है। ये लोग प्रायः नाटे कद के होता है। इनकी नाक चौड़ी तथा चिपटी होती है। इनकी भाषा संथाली और लिपि ओल्चिकी है। कृषि के साथ ये लोग जानवर भी पालते हैं।

पृष्ठ संख्या: 33

ख. यह पाठ एक लोककथा पर आधारित है। अगर तुमने कभी कोई लोककथा सुनी है तो लोककथा और सामान्य कहानी के बारे में अपनी कक्षा में चर्चा करो।

उत्तर

लोककथा का शाब्दिक अर्थ है लोगों की कथा। यह सामान्य कहानी से बहुत अलग होती है। लोककथा सदियों से चली आ रही कथा को कहते हैं जो की लोगों में बहुत चर्चित होती है। यह कथा पीढ़ी दर पीढ़ी सुनाई जाती रहती है। लोककथाएँ किसी खास वर्ग के संस्कृति से जुडी होती हैं। वहीं सामान्य कहानी किसी कहानीकार द्वारा लिखी जाती है जो की तात्कालिक मूल्यों पर आधरित होती हैं। यह किसी ख़ास वर्ग के संस्कृति से जुडी नहीं होती हैं।

5. बार-बार बोलो

वर्षों तक इस प्रकार की यात्रा होती रही।
वर्षों तक इस प्रकार की यात्रा होती ही रही।

नीचे लिखे वाक्यों में सही जगह 'ही' लगाकर बोलो-

क. सुधा सुबह तक पढ़ती रही।
► सुधा सुबह तक पढ़ती ही रही।

ख. यह पंख हमेशा आवाज़ करता रहता है।
► यह पंख हमेशा आवाज़ करता ही रहता है।

ग.  गारो लोगों का खानाबदोश जीवन कई सालों तक चलता रहा।
► गारो लोगों का खानाबदोश जीवन कई सालों तक चलता ही रहा।

घ. सुनील थककर सो गया।
► सुनील थककर सो ही गया।

ड. दो घंटे बाद बस चल पड़ी।
► दो घंटे बाद बस चल ही पड़ी।

6. सही-सही

नीचे लिखे शब्दों में सही अक्षर भरो-

स, श. ष


► विषय

► साहस

► आकर्षक

► पुरुष

► शेष

► विष

► विषम

► शत्रु

► षटकोण

► वर्षा

► वर्ष

► समुद्र

► सहज

7. इन शब्दों की रचना देखो 

सामाजिक, पारंपरिक। ये शब्द इक (तद्धित) प्रत्यय लगाकर बनाए गए हैं। इसी प्रकार इक प्रत्यय लगाकर पाँच शब्द बनाओ।

उत्तर

नैतिक, आर्थिक, धार्मिक, सांसारिक, लौकिक

पाठ में वापिस जाएँ
Previous Post Next Post
X
Free Study Rankers App Download Now